महावन(मथुरा)-Mon, 10 Sep 2018
मथुरा में बलदेव के विधायक पूरन प्रकाश 9 घंटे तक थाने पर धरना देते रहे। बड़ी संख्या में क्षेत्र की पब्लिक भी उनके साथ थी। रात को एक बजे तबीयत बिगड़ने पर नर्सिंग होम में भर्ती करा दिया गया लेकिन हासिल कुछ नहीं हुआ। जिस एसओ से विधायक नाराज थे वह अभी तक कुर्सी पर काबिज है। एसएसपी का कहना है कि विधायक के आरोपों की जांच एसपी देहात कर रहे हैं। दो दिन में रिपोर्ट मांगी गई है। रविवार की शाम को विधायक पूरन प्रकाश क्षेत्रीय जनता के साथ महावन थाने पर पहुंचे थे। पब्लिक ने विधायक को बताया था कि थानाध्यक्ष पीड़ितों के साथ दुर्व्यवहार करते हैं। मुकदमा दर्ज नहीं किया जाता। बात बात पर पैसे मांगे जाते हैं। इन आरोपों को सुनकर गुस्साए विधायक महावन थाने पर पहुंच गए और धरना लगा दिया। शाम को पांच बजे से धरना शुरू हुआ था।

आहिस्ता आहिस्ता भाजपा के भी तमाम नेता वहां पहुंच गए। पब्लिक भी बढ़ती चली गई। विधायक ने कहा कि जब तक एसओ को नहीं हटाया जाएगा वह यहां से नहीं हटेंगे। रात को करीब एक बजे उनकी तबीयत बिगड़ी तो मथुरा में नर्सिंग होम में भर्ती करा दिया गया। विधायक ने बताया कि उन्हें अफसरों ने भरोसा दिया था कि शाम तक एसओ को हटा दिया जाएगा।

एसएसपी बबलू कुमार ने कहा कि विधायक ने जो आरोप लगाए हैं उनकी जांच के एसपीआरए को दी गई है। दो दिन में रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट आने पर कार्रवाई की जाएगी। विधायक की मांग धरने के बाद भी पूरी नहीं हो सकी है। इसकी कसक उनके समर्थकों में बनी हुई है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY