हर्रैया बस्ती ।
रिपोर्टर– अनिल कुमार बस्ती,
ज्योतिबा राव फूले जन चेतना समिति ने जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय दिल्ली मे छात्र संघ चुनाव मे चुने गये सभी वामपंथी मोर्चा के पदाधिकारियो को बधाई देते हुए खुशी जाहिर किया ।
आइशा का लगातार निर्वाचित होते रहे अध्यक्ष एन साई बाला जी की जीत ने यह तय कर दिया है कि जेएनयू ही नही पूरा देश न भगवा पसंद किया है न करेगा ।
सांप्रदायिक,कार्पोरेट,फांसीवादी ताकतो की रहनुमाई करने वाली भाजपा के छात्र संगठन एबीपी के लोगो द्वारा जेएनयू छात्र संघ चुनाव मे घोर अनियमितता व छेड़-छाड़ बूथ कैपचरिंग व मारपीट कर चुनाव जीतने के लिए आतुर थे ।
वही जेएनयू के छात्रो ने ईट कि जवाब पत्थर से दिया घिनौने मानसिकता के लोगो को करारा जवाब देते हुए वोट के ताकत से बता दिया की इस देश मे शिक्षा के क्षेत्र मे भेदभाव नही चलेगा जिस नीति से शिक्षा महंगी होती जा रही है ।
शिक्षा के क्षेत्र मे सांप्रदायिका व जातिवादता का जहर घोल कर समाज को विज्ञान से बैलगाड़ी युग मे ले जाना चाहती है ।
बेरोजगारो को दो करोड़ प्रति वर्ष रोजगार का वादा करने वाली सरकार रोजगार न दे पाने पर असफल रही सरकार बेरोजगारो को पकोड़े बेचने को अपने रोजगार का हिस्सा मानती है , उत्तर प्रदेश की सरकार पढाई आधे सत्र बीत जाने के बाद विद्यार्थियो को किताब तक नही दे पाई प्रदेश के कई विश्वविद्यालयो से छात्र संघ चुनाव रोक कर लोकतंत्र की गला घोंट रही है । इसलिए देश के सबसे बड़े विश्वविद्यालय मे छात्रो ने देश की जनविरोधी सरकार को 2019 के चुनाव मे उखाड़ फेंकने का आगाज किया चुनाव मे प्रसन्नता व्यक्त करने मे सर्व श्रद्धेय राजाराम राम सरोज, सुरेंद्र कुमार गौतम, छोटे लाल गौतम,चन्द्र प्रकाश गौतम,आर पी कन्नौजिया, ज्ञानदास कन्नौजिया , डा0 महेंद्र प्रताप भारती , डा0 निर्मल, रामू प्रसाद, डा0 रंजीत कुमार, आर जे गौतम , राम लौट ,भीम प्रकाश आदि प्रमुख लोग उपस्थित रहे ।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY