महराजगंज, डॉ भीम राव अम्बेडकर के परिनिर्वाण दिवस पर भाजपा कार्यालय पर डॉ भीम राव अम्बेडकर जी को याद कर श्रधांजलि दी गई।इस अवसर पर सदर विधायक जयमंगल कन्नौजिया ने कहा कि डॉ साहब के आदर्शों को आत्मसात करने की ज़रूरत है। डॉ साहब 14 अप्रैल 1891 में मध्य प्रदेश के महू में हुआ था। वे भारतीय विधिवेत्ता, अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ औरसमाज़ सुधारक थे। उन्होंने दलित बौद्ध आंदोलन को प्रेरित किया था। दलितों के खिकाफ सामाजिक भेदभाव के विरुद्ध अभियान चलाया था। नवनिर्वाचित नगरपालिका परिषद के अध्यक्ष कृष्ण गोपाल जायसवाल ने कहाकि भारत को संविधान देने वाले महान नेता थे डॉ भीम राव अम्बेडकर। जिला महामंत्री परदेसी रविदास ने कहजी डॉ साहब जन्मजात प्रतिभा सम्पन्न थे। 8 अगस्त 1930 को एक शोषित वर्गके सम्मेलन के दौरान  उन्होंने अपनी राजनैतिक दृष्टि को दुनिया के सामने रखा था।अपने विवादास्पद विचारों और गांधी और कांग्रेस की कटु आलोचना के बावजूद अम्बेडकर जी प्रतिष्ठा, एक अदिवतीय विद्वान और विधिवेत्ता की थी। इसके बावजूद 1947 में देश के पहले कानून मंत्री बने।इस अवसर पर सभसाद राघवेंद्र मिश्र, भाजयुमो केनगर अध्यक्ष अभषेक श्रीवास्तव, अशोक विश्वकर्मा, प्रदीप गौर, नागेन्द्र प्रसाद, भारतेंदु त्रिपाठी आदि लोगो ने भी पुष्प अर्पित कर डॉ भीमराव आंबेडकर जी को श्रधांजलि दी।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY