कुशीनगर में सफेद रेत से लाल हो रहे खनन माफिय

कुशीनगर। जिले की जर्जर और कमजोर हालत में बनी कटाई भरपुरवा बांध अपनी उपेक्षा का दंश झेल रही है।वही बांध के समीप बालू खनन माफियाओं की दृष्टि भी जम गई है।सर्वविदित है कि यह वही बांध है जिसके ऊपर गंड़क नदी में उत्त्पन्न कटाव की खतरा से ग्रामीण पलायन होने के लिए विवश हो गए।तटबन्ध की बचाव कार्य मे बाढ़ सुरक्षा के नाम पर करोड़ो रूपये की पत्थर पानी मे बहा दिया गया।अब शुक्र है कि नदी का रुख कुछ वर्षों से शांत पड़ी है।जिससे तटवर्ती ग्रामीणों को राहत मिली है। लेकिन चंद समाज के लुटेरों की गिद्ध दृष्टि बालू पर पड़ गई है।
खनन माफिया अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे
ग्रामीणों के लाख विरोध के बावजूद खनन माफिया अपनी आदत से बाज नहीं आ रहे है।तटबंद के निकट बांध पर बालू भंडारण कर ट्रकों से सप्लाई जनपद महराजगंज, गोरखपुर,देवरिया आदि जिलों में  बालू माफियाओ के लिए मुंगेरीलाल की हसीन सपना बना हुआ है।ग्रामीणों की माने तो पुलिस के मर्जी के बिना एक पत्ता नही हिल सकता।यही सत्य है,बालू माफिया पुलिस का भय व्याप्त कर अंधाधुंध प्राकृति की संम्पत्ति पर डाका डालने का काम कर रहे हैं।
ग्रामीणों का कहना है कि एक रात के लिए प्रति ट्राली बालू लोडिंग के लिए एक हजार रुपया पुलिस ले रही है। वहीं ट्रकों की लोडिंग की कीमत तीन हजार रुपया बांध दिया गया है। सवाल यहां खड़ा है कि सुरक्षा के नाम पर नौकरी करने आये नौकरशाहों से ग्रामीण इलाकों की दुखती रगों से इनका क्या सरोकार है। सुरक्षा का चोला पहन कर नियत में सिर्फ पैसा कमाने के लिए आये है।ये भी बतादे कि पुलिस विभाग की कलई उजगार होने पर पुलिस जहर उगलना शुरू कर देती है।जिससे लोग भयाक्रांत हो जाते है।इस लिए वर्दी के दामन से लोग दूरी बना कर रहना अपनी भलाई समझते है।
ट्रैक्टर असंतुलित होकर नाली में जा फंसी
जिले के जटहा बाजार थाना क्षेत्र के जटहा मोड़ पर आज मंगलवार की सुबह बालू लदी ट्रैक्टर इतनी तेजी के साथ ट्रैक्टर चालक ने मोड़ा कि ट्रैक्टर असंतुलित होकर नाली में जा फंसी है।शुक्र है कि हर रोज की तरह कोई बच्चा खेल नही रहा था।नही तो बड़ी घटना हो सकती थी।आक्रोशित लोगों ने बताया कि कटाई भरपुरवा के पूर्व प्रधान की बालू लदी हुई है।संयोग से पूर्व प्रधान नाथू प्रसाद ट्रैक्टर को निकलवाने में मशक्कत कर रहे थे।100 नंबर पर फोन कर पुलिस को बुलाकर अपनी आप बीती अंजामों से अवगत कराए। 100 नंबर प्रभारी निरीक्षक से पूछने पर कहा कि ट्राली को थाने पर ले जाकर सुपुर्दगी में दे दूगां।जिसकी कार्यवाही एसओ करेगें।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY